टैगोर की कर्मभूमि ‘शांतिनिकेतन’ से घूमने से पहले जानें ये बातें

शांतिनेकतन पहुंच जाना, अपने आप में एक सपने के पूरे हो जाने सरीखा होता है। पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में बोलपुर इलाके में बसा है शांतिनिकेतन। शांतिनिकेतन जाकर हर कोई रवींद्रनाथ टैगोर के जीवन को करीब से महसूस करना चाहता है, वो स्कूल देखना चाहता है जहां आज भी बच्चों को पेड़ों के नीचे पढ़ाया जाता है।

कई सारी ऐसी बातें हैं जो आपको वहां जाने से पहले जान लेनी चाहिए। यहां पर आपका गूगल देखे बिना सफर करने वाला दर्शनशास्त्र हानिकारक साबित हो सकता है।


ये भी देखेंः

ये भी पढ़ें:  बंगाल की लोकल ट्रेनों में सफर करतीं दिल्ली की दो लड़कियों के किस्से

Leave a Comment